भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

albitite

ऐल्बीटाइट :
मुख्यतः एल्बाइट से संघटित एक स्थूलकणिक पॉफिरिटिक गठन वाला शैल जिसमें एल्बाइट के लक्ष्य क्रिस्टल (phenocryst) उसी के आधात्री (ground mass) में स्थित होते हैं । इस आधात्री के सहायक (accessory) खनिज मस्कोवाइट, गार्नेट तथा क्वार्ट्ज इत्यादि होते हैं ।

albite-epidote-amphibolite facies

एल्बाइट-एपीडोट-एम्फिबोलाइट संलक्षणी :
मध्य से उच्च दाब व तापक्रम की परिस्थितियों में रचित कायांतरित शैलों की संलक्षणी जिसमें हॉर्नब्लेन्ड, एल्बाइट तथा एपीडोट खनिज विद्यमान रहते हैं ।

albite-epidote-hornfels facies

ऐल्बाइट-एपिडोट-हॉर्नफेल्स संलक्षणी :
संस्पर्श कायान्तरण के मण्डल (aureole) के बाहरी किनारों पर विकसित कम ताप पर निर्मित संलक्षणी जिसमें विसंतुलन सामान्य रूप से पाया जाता है । इसका खनिज-संघटन ग्रीन शिस्ट संलक्षणी सदृश होता है ।

albitization

ऐल्बाइटीभवन :
किसी आग्नेय शैल के प्लैजियोक्लेस फेल्डस्पार का ऐल्बाइट द्वारा प्रतिस्थापित होने का प्रक्रम ।

alkali basalt

क्षारीय बेसाल्ट :
वह बेसाल्ट जिसमें सामान्य से अधिक कुछ क्षार पाइरॉक्सीन तथा फेल्सपेथॉइड भी पाये जाते हैं ।

alkali gabbro

क्षारीय गैब्रो :
स्थूल कणिक (coarse grained) वितलीय शैल जिसमें ऑगाइट प्लेजिओक्लेस तथा पोटाश फेल्डस्पार अनिवार्य घटक के रूप में मिलते हैं ।

alkali gneiss

क्षारीय नाइस :
वह नाइस जिसमें क्षारीय खनिज जैसे ग्लौकोफेन, क्रोसाइट, रीबोकाइट, ऐजिरिन, नैफिलीन इत्यादि प्रचुर मात्रा में मिलते हैं ।

alkali granite

क्षारीय ग्रेनाइट :
असाधारण रूप से अधिक क्षारीय ग्रेनाइट जिसमें फेल्सपार का लगभग 2/3 भाग क्षार-फेल्डस्पार होता है ।

alkali-granitite

क्षारीय ग्रेनिटाइट :
असाधारण रूप से अधिक क्षारीय ग्रेनिटाइट । ग्रेनिटाइट शब्द का प्रयोग अब बहुत कम होता है ।

alkali-lime index

क्षार चूना सूचकांक :
विभिन्नता आरेख पर आग्नेय शैलों के अनुक्रम में सिलिका की भार प्रतिशतता जहाँ कि CaO और (K2O+Na2O) की भार प्रतिशतता बराबर होती है । आरेख में यह CaO तथा (K2O+Na2O) को निरूपित करने वाले वक्रों के प्रतिच्छेदन-बिंदु द्वारा प्रदर्शित होती है ।

alkali syenite

क्षारीय साइनाइट :
असाधारण रूप से अधिक क्षारीय फेल्डस्पारयुक्त साइनाइट । इसमें गहरे रंग के ऐजिरीन-औगाइट की विद्यमानता इसका मुख्य लक्षण है ।

alkemade line

अल्केमेड रेखा :
तृतीय प्रावस्था आरेख की वह सीधी रेखा, जो उन दो प्राथमिक प्रावस्थाओं के संघटन बिन्दुओं को मिलाती है जिनके क्षेत्र आसन्त (adjacent) हों तथा उनके अन्तरा पृष्ठ (interface) एक सीमान्त वक्र बनाते हों ।

alkemade theorem

अल्केमेड प्रमेय :
वह प्रमेय जिसके अनुसार एक तृतीयक प्रावस्था आरेख में घटते तापमान को दिशा दो प्राथमिक प्रावस्था क्षेत्रों के बीच सीमांत वक्र पर अल्केमेड रेखा से सर्वेदा दूर रहेगी ।

allochem

ऐलोकेम :
वह पुंजित कार्बोनेटी अवसाद जो निक्षेपण बेसिन में रासायनिक तथा जैव रासायनिक अवक्षेपण द्वारा निक्षेपित होने से पुर्व उसी बेसिन में स्थानांतरित होकर निर्मित हुआ हो ।

allochthon

अपरस्थानिक शैलपिंड :
वे शैल जो अधिक्षेपण या शयान वलन जैसे विवर्तनिक बलों द्वारा अपने मूल निक्षेपण स्थान से बहुत दूर ले जाये गए हों ।

allochthonous

अपरस्थानिक :
उन शैलों के लिए प्रयुक्त एक शब्द जिनके प्रधान घटक अपने स्थान पर निर्मित न होकर कहीं और निर्मित हुए हों ।

allometamorphism

अपर कायांतरण :
बाह्य शक्तियों के प्रभाव से उत्पन्न कायांतरण की एक प्रक्रिया जो शैल रचना के बाद घटित होती है ।

allomorph

अपररूप :
कुछ खनिजों का ऐसा कूटरूप जिसका रासायनिक संघटन उसके मूल खनिज पदार्थ से भिन्न नहीं होता अर्थात् कूटरूप के निर्माण में कोई संघटनी परिवर्तन नहीं होता, जैसे ऐरागोनाइट से परिवर्तित कैल्साइट ।

allophase metamorphism

अपरप्रावस्था कायान्तरण :
कायान्तरण की वह प्रक्रिया जिसमें नवीन खनिज प्रावस्थाओं का निर्माण होता है ।

allothigene

अन्यत्रजन :
वे शैल या शैल घटक अथवा खनिज जो प्राप्ति-स्थल पर निर्मित न होकर कहीं और से परिवाहित होकर वहां निक्षेपित हो गए हों जैसे संगुटिकाश्म में गोलाश्म तथा गटिकायें एवं आग्नेय शैलों में अन्तर्वेश ।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App