भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Kosh Vigyan Kosh (English-Hindi)(KHS)

Kendriya Hindi Samsthan (Agra)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Argotisms

गुप्त भाषा प्रयोग
देखिए- ‘argot’।

Arrangement

व्यवस्था
कोश में प्रविष्टियों को प्रस्तुत करने का ढंग जिसमें प्रविष्टियों का सूचीकरण, मुख्य शब्द तथा उससे संबंधित (नीड़बद्ध) शब्दों के प्रस्तुतीकरण एवं अन्योन्य संदर्भ आदि की व्यवस्था सम्मिलित है।

Arrangement Of Items

प्रविष्टि व्यवस्था
प्रविष्टियों को व्यवस्थित करना। कोश में अकारादि क्रम से व्यवस्थित करके अन्य वांछित सूचनाएँ देकर प्रविष्टियों को निर्धारित रूप में रखना।

Attitudinal Symptoms

अभिवृत्ति संकेतक
वाक्य में प्रयुक्त वे भाषिक इकाइयाँ जो भाषिकेतर जगत से प्रत्यक्ष संबंध नहीं रखती; वे मात्र बोलने वाले की भावना या इच्छा की सूचक होती हैं। जैसे- ओ, अरे आदि।

Axis

अक्ष / आधार
देखिए ‘axis of time’।

Axis Of Time

समय अक्ष / समय आधार
शब्दों के संबंध में सूचना देने का समयपरक आधार। इस आधार पर शब्दों के संबंध में या तो तत्कालीन सूचना दी जाती है अथवा दो समय आधारों के मध्य की (शब्द के रूप परिवर्तन, अर्थपरिवर्तन आदि) सूचना दी जाती है। इसी आधार पर कोशों को एककालिक एवं कालक्रमिक वर्गों में बाँटा जाता है।
देखिए- ‘dictionary’।

Basic

मूल / आधारभूत
देखिए- ‘cannonical form’।

Behavioural Theory Of Meaning

व्यवहारपरक अर्थ सिद्धांत
अर्थ से संबंधित वह सिद्धांत जिसके अनुसार माना जाता है कि अर्थ का संबंध सुनने वाले की प्रतिक्रिया से है, अर्थात् ‘अर्थ’ एक प्रकार की प्रेरणा या उत्तेजना है जो ‘कथन’ को जन्म देती है, जिसे सुनकर सुनने वाला एक विशेष प्रकार की प्रतिक्रिया करता है।

By Product

अतिरिक्त उपज
शब्दावली के संबंध में आरंभिक संरचनात्मक भाषाविज्ञानियों की धारणा; जिसके अनुसार शब्द भाषा का मूल भाग नहीं है।

Borrowed Vocabulary

आदात शब्दावली
ऐसे शब्द जो भाषा को अपनी स्रोत भाषा से प्राप्त न हुए हों किंतु संपर्क के कारण अन्य भाषा से उसमें आ गए हों। जैसे- हिंदी में आए हुए अनेक अरबी-फ़ारसी एवं अंग्रेज़ी तथा अन्य भाषाओं के शब्द।

Borrowing

आदान
भाषा संपर्क के कारण एक भाषा में दूसरी भाषा से आए हुए शब्द, व्याकरणिक प्रभाव आदि। इसी प्रक्रिया के फलस्वरूप हिंदी में अंग्रेज़ी तथा कई अन्य भाषाओं के अनेक शब्द आ गए हैं।

Cannonical Form

विहित रूप
शब्द का वह रूप जिसमें से अन्य रूपों का निष्पादन किया जाय। यही रूप कोश में प्रविष्टि का आधार बनता है। जैसे- ‘उस’, ‘उन’ का विहित रूप है- ‘वह’।

Catachresis

अनुचितार्थ (प्रयोग)
शब्द का ऐसा प्रयोग जो उस संदर्भ में सही न हो या अनुचित हो।

Catalogue

सूची पत्र / सूची
वस्तुओं, नामों, चित्रों आदि की व्यवस्थित सूची।

Catch Word

सूत्र शब्द
ऐसा शब्द जो पूरी अभिव्यक्ति (वाक्य आदि) के अर्थ का आधार हो।

Category

कोटि / संवर्ग
वर्ग या समूह। व्याकरण के संदर्भ में ऐसी इकाइयों का समूह जो समान व्याकरणिक विशेषताएँ रखता हो। जैसे- लिंग, वचन, कारक आदि के सूचक समूह।

Character

विशेषण
किसी शब्द या भाषिक इकाई का निजतासूचक गुण।

Circularity

वृत्तपरकता (परिभाषा की)
शब्द की वह परिभाषा जो संबंधित शब्द के उल्लेख पर आधारित हो। उदाहरणार्थ ‘सुन्दर’ शब्द की परिभाषा ‘सुन्दरता’ शब्द के द्वारा और ‘सुन्दरता’ शब्द की परिभाषा ‘सुन्दर’ शब्द के द्वारा दी जाय। जैसे- ‘सुन्दर’ = वह व्यक्ति जिसमें सुन्दरता हो और ‘सुन्दरता’ = सुन्दर व्यक्ति का अभिलक्षण। इस प्रकार की परिभाषा में संबंधित वस्तु की विशेषताओं की निजता का बोध नहीं होता।

Citation

उल्लेख
शब्द के किसी अर्थ को स्पष्ट करने या किसी प्रयोग के समर्थन में वास्तविक प्रयुक्त अंश का किसी पाठ से दिया गया उद्धरण।

Class

वर्ग
समानगुण, प्रकार्य आदि सूचक इकाइयों का समूह।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App