भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Vanijya Paribhasha Kosh (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Capitalization

पूँजीकरण
प्रतिष्ठान के प्रतिधारित लाभों और आरक्षित निधियों का बोनस शेयर जारी करके शेयरपूँजी में परिवर्तन।

Capitalized value

पूंजीकृत मूल्य
अ – प्रतिष्ठान की वार्षिक आय को किसी निश्चित (प्रायः प्रचलित) ब्याज-दर से भाग देने पर लब्ध मूल्य।
आ – अभिकलन की वह प्रक्रिया जिससे यह ज्ञात किया जाता है कि एक विशिष्ट वार्षिक आय अर्जित करने के लिए कितनी पूँजी का निवेश आवश्यक है ; उपर्यक्त पद्धति से निकलने वाली राशि।

Capital liability

पूँजीगत देयता
अ – किसी अचल परिसंपत्ति को ख़रीदने अथवा ऋण को चुकाने के लिए ओढ़ी गई दीर्घकालीन देयता।
आ – प्रतिष्ठान की निवल मालियत (net worth)।

Capital market

पूँजी-बाजार
दीर्घकालीन निवेश के लिए उपलब्ध प्रतिष्ठान सामूहिक रूप से पूँजी बाज़ार कहलाते हैं। इनमें बीमा कंपनियाँ, बचत-बैंक, निवेश बैंक, ट्रस्ट कंपनियाँ, शेयर-बाज़ार आदि सम्मिलित हैं।

Capital net worth (net worth)

निवल संपत्ति, निवल मालियत
प्रतिष्ठान की कुल परिसंपत्तियों के मूल्य में से उसकी देयताएँ घटाने के बाद जो राशि बचती है, वह प्रतिष्ठान की ‘निवल संपत्ति’ या ‘निवल मालियत’ कहलाती है।

Capital outflow

पूँजी-बहिर्गमन, पूँजी-बहिवहि
किसी देश अथवा उद्योग विशेष में लगी पूँजी को वहाँ से निकाल कर अन्य देशों अथवा उद्योगों में निविष्ट करना।
इसमें और ‘पूँजी-पलायन’ में यह अंतर है कि ‘पूँजी-पलायन’ भारी मात्रा में और पूँजी के अचानक निष्क्रमण के लिए प्रयुक्त होता है।
तुल. दे. capital inflow

Capital-output ratio

पूँजी-निर्गत अनुपात
मूल्यह्रास घटाने के बाद प्रतिष्ठान के संयंत्र और उपस्कर का जो खाता मूल्य हो, उसका और प्रतिष्ठान के उत्पाद के सकल मूल्य का अनुपात। यह पूँजी-निवेश की मात्रा के निर्धारण तथा निविष्ट पूँजी की उत्पादिता के मापन के संदर्भ में प्रयुक्त होता है।

Capital receipts

पूँजीगत प्राप्तियाँ
प्रतिष्ठान में निविष्ट नई पूँजी, जमा रक़में, कर्ज़े के रूप में प्राप्त राशियाँ अथवा अचल परिसंपत्तियों की बिक्री से प्राप्त धन।

Capital redemption

पूँजी-वापसी, पूँजी-प्रतिदान
प्रतिदेय शेयरों, डिबेंचरों, बंधपत्रों आदि की चुकौती।

Capital turnover

पूँजी-आवर्त
किसी प्रतिष्ठान द्वारा की गई बिक्री तथा उसके बॉन्डों और शुद्ध मालियत के योग का अनुपात।
समान. investment turnover

Capital value

पूंजीगत मूल्य
किसी अचल परिसंपत्ति से प्राप्य अनुमानित आय-प्रवाह का बट्टागत मूल्य।

Card ledger

कार्ड खाता
जिल्दबंद खाते के बजाय कार्डों पर लेखे रखने की व्यवस्था जिसमें हर लेखे के लिए एक अलग कार्ड बना लिया जाता है और सभी कार्डों को क्रमपूर्वक लगाकर विशेष रूप से बनी दराज़ों में रखा जाता है।

Carried down (c/d)

अधोनीत, तलशेष
लेखा-अवधि की समाप्ति पर पृष्ठ के आरपार रेखा खींचने के पश्चात् नई लेखा-अवधि की प्रविष्टियाँ लिखने के पूर्व अंकित किया गया पिछली अवधि का लेखा-शेष।

Carried forward (c/f)

अग्रेनीत
अ – (कराधान) किसी मद में हुई ऐसी हानि जो संबंधित निर्धारण वर्ष में समायोजित न की जा सकी हो और इस कारण आगामी वर्ष या वर्षों की आय की आय में समायोजित की जानी हो।
आ – (लेखाविधि) एक खाते या पृष्ठ के भर जाने पर उसके जोड़ को दूसरे खाते या पृष्ठ पर ले जाने की क्रिया; लेखा-अवधि की समाप्ति पर किसी लेखे के जोड़ को अगली लेखा-अवधि के लेखे में अंतरित करना।

Cartel

उत्पादक संघ, कार्टेल
बाज़ार में एकाधिकारी लाभ प्राप्त करने के उद्देश्य से स्वतंत्र उत्पादक इकाइयों द्वारा बनाया गया स्वैच्छिक संगठन जो उत्पादित वस्तुओं ओर सेवाओं का परस्पर बँटवारा करके या वितरण के चरण में आपसी समझौते करके बाज़ार पर प्रभावी अधिकार करने का प्रयास करता है।

Cash account

रोकड़ लेखा, नकदी लेखा
वह लेखा जिसमें दिन भर के नक़द लेनदेन के नामे और जमा के जोड़ प्रविष्ट किए जाते हैं। इस लेखे का शेष ‘हाथ रोकड़’ कहलाता है जिसका अर्थ है कि खजांची की पेटी में रोकड़ लेखे के शेष के बराबर रक़म मौजूद होनी चाहिए।

Cash against documents (C/D)

अदायगी पर प्रलेख, भुगतान पर प्रलेख
बिक्री की वह शर्त जिसके अनुसार माल की बिल्टी सौंपते समय ख़रीदार से माल की क़ीमत जमा करा ली जाती है। प्रायः यह बैंक या वी. पी. पी. के माध्यम से होता हैं।समान. documents against payment (D/P)

Cash and carry

नक़द दो माल लो
बिक्री की एक शर्त जिसके अनुसार ख़रीदार को माल ख़रीदते समय ही नक़द भुगतान करना होता है और माल उठाकर ले जाने का प्रबंध भी ख़ुद करना पड़ता है।

Cash basis accounting

नक़दी-आधार लेखाकरण
लेखाकरण की एक पद्धति जिसके अंतर्गत आमदनी और ख़र्च की मदें, नक़द प्राप्ति अथवा भुगतान के समय को आधार मानकर ही बहियों में दर्ज की जाती है; वे किस अवधि से संबंधित हैं, इसका विचार नहीं किया जाता। भारतीय लेखा पद्धति मूलतः इसी सिद्धांत पर आधारित है।
तुल. दे. accrual baisi accounting

Cash before delivery (C.B.D)

सुपुर्दगी-पूर्व अदायगी
बिक्री की एक शर्त जिसके अनुसार ख़रीदार को माल की सुपुर्दगी लेने से पहले क़ीमत का भुगतान करना होगा।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App