भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Philosophy (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

Please click here to view the introductory pages of the dictionary
शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें।

< previous123456Next >

Damnation

अनंत अभिशाप
ईसाई इत्यादि कुछ धर्मों के अनुसार, पाप के लिये अनंतकाल तक यातना भोगते रहने का दंड।

Darapati

डाराप्टी
तृतीय आकृति का वह प्रामाणिक न्याय-वाक्य जिसका साध्य आधार-वाक्य सर्वव्यापी विधायक तथा निष्कर्ष अंशव्यापी विधायक होता हैं।
उदाहरण : सभी कवि कल्पनाशील हैं;
सभी कवि मनुष्य हैं;
∴ कुछ मनुष्य कल्पनाशील हैं।

Darii

डेरिआई
प्रथम आकृति का वह प्रामाणिक न्याय वाक्य जिसका साध्य आधार-वाक्य सर्वव्यापी विधायक, पक्ष आधार-वाक्य अंशव्यापी विधायक और निष्कर्ष भी अंशव्यापी विधायक होता हैं।
उदाहरण : सभी मनुष्य विचारशील हैं;
कुछ प्राणी मनुष्य हैं;
∴ कुछ प्राणी विचारशील हैं।

Data (Sense. Datum)

प्रदत्त
वह दी हुई सामग्री जिसके आधार पर निष्कर्ष निकाले जाते हैं या कोई शास्त्र अपनी छानबीन को आगे बढ़ाता हैं।

Datisi

डाटीसी
तृतीय आकृति का वह प्रामाणिक न्याय वाक्य जिसका साध्य आधार-वाक्य सर्वव्यापी विधायक, पक्ष आधार-वाक्य अंशव्यापी विधायक और निष्कर्ष अंशव्यापी विधायक होता है।
उदाहरण : सभी दार्शनिक चिन्तक हैं;
कुछ दार्शनिक भारतीय हैं;
∴ कुछ भारतीय चिंतक हैं।

Deanthropomorphism

मानवत्वापरोपण
जड़ वस्तुओं में मानवीय गुणों का आरोप करने की आदिम प्रवृत्ति का निराकरण।

Decalogue

दशादेश, आदेशदशक
ईसाई धर्म के आधारभूत वे दस आदेश जिनके बारे में यह माना जाता है कि वे ईश्वर द्वारा मूसा को दिये गए थे।

Decisional Implication

निश्चयपरक आपादन
वह हेतुफलात्मक कथन जो एक विशेष स्थिति में वक्ता के द्वारा एक विशेष व्यवहार के किये जाने का निश्चय बताता है, जैसे; “यदि पाकिस्तान जीतता है तो मैं आत्महत्या कर लूँगा।”

Declarative Sentence

ज्ञापक वाक्य
किसी तथ्य-सूचक प्रतिज्ञप्ति को व्यक्त करने वाला वाक्य, जो यथार्थ अथवा अयथार्थ हो सकता है, ज्ञापक वाक्य कहलाता है।

Decurtate Syllogism

लुप्तावयव-न्यायवाक्य
वह न्यायवाक्य जिसका एक आधार वाक्य अव्यक्त या लुप्त हो।

Deduction

निगमन
1. अनुमान का वह प्रकार जिसमें हम सामान्य के आधार पर विशेष निष्कर्ष निकालते हैं।
2. एक या एक से अधिक आधार वाक्यों की सहायता से निकाला गया निष्कर्ष जिसकी व्याप्ति आधार वाक्यों के बराबर अथवा उससे कम होती है।

Deductive Classification

निगमनात्मक वर्गीकरण
तार्किक विभाजन की प्रक्रिया का दूसरा नाम, जिसका आधार यह है कि वह अधिक व्यापक से कम व्यापक की ओर चलती है, जो कि निगमन की एक विशेषता है।

Deductive Definition

निगमनात्मक परिभाषा
आगमनात्मक परिभाषा (inductive definition) से भिन्न वह परिभाषा जो किसी पद के पूर्ण गुणार्थ का स्पष्ट कथन करती हो।

Deductive System

निगमन व्यवस्था
प्रतिज्ञप्तियों का ऐसा समूह, जिसमें वे तार्किक संबंधों के द्वारा, अर्थात् आधार वाक्य और निष्कर्ष के रूप में जुड़ी हुई हों, जैसे कोई भी ज्यामितीय तंत्र।

Deductive Syllogism

दोषपूर्ण न्यायवाक्य
वह युक्ति जिसमें न्याय वाक्य के नियमों का उल्लंघन किया गया हो।

Definiendum

परिभाष्य (पद)
वह पद जिसकी परिभाषा दी जानी है।

Definiens

परिभाषक
वह वाक्यांश जिसके द्वारा किसी पद की परिभाषा दी जाती है।

Definite Description

निश्चयात्मक वर्णन
एक ऐसा शब्द-समुच्चय जो एक निश्चित व्यक्ति या वस्तु का बोध कराता हो। जैसे, “रामचरितमानस का रचयिता”। बर्ट्रेन्ड रसल ने सर्वप्रथम अपने दर्शन में इस शब्द का प्रयोग किया था।

Definition By Division

विभाजक परिभाषा
वह परिभाषा जिसमें हम एक जाति के उसके उपजाति के माध्यम से परिभाषित करते हैं। उदाहरण के लिए, जानवर को हम ऊँट, घोड़े इत्यादि के माध्यम से अभिव्यक्त करते हैं।

Definition By Extension

वस्त्वर्थक परिभाषा
वह परिभाषा जो परिभाष्य पद के द्वारा निर्दिष्ट वर्ग के सदस्यों की गणना पर आधारित हो।
< previous123456Next >

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App